चाँद

????
ईद और करवाचौथ पर
रहता है चाँद का जलवा।
बाकियों दिन वह घटता –
बढ़ाता रहे, किसे है परवाह।
?
जिसे निहारने के लिए
साल में दो बार,
दो सम्प्रदाय रहते हैं बेताब से।
कब दिखे चांद, जो राहत मिले
दिन-भर के उपवास से।
????—लक्ष्मी सिंह?☺

236 Views
MA B Ed (sanskrit) My published book is 'ehsason ka samundar' from 24by7 and is...
You may also like: