.
Skip to content

चंद शेर…..अर्ज हैं

Radhey shyam Pritam

Radhey shyam Pritam

शेर

July 31, 2017

टूटा साख से पत्ते करते हैं,हम तो स्वयं एक पेड हैं भैया।
सागर की तरह छाती पर,औरों की तैराया करते हैं नैया।।
?????
यहाँ हर समस्या का समाधान होता है।
कुछ पल का ही बस व्यवधान होता है।
विपत्तियां वो शिक्षा देती हैं दोस्त”प्रीतम”,
जिसमें हर महाविद्यालय नाकाम होता है।
?????
कभी हमसफर रूठे तो मना लीजिए।
मधुर मुस्कान से दिल में पनाह दीजिए।
त्याग और विश्वास से ही रिश्ते बनते हैं,
भूल से भी इन्हें न कभी भूला कीजिए।
?????
हर काली रात के बाद सुबह होती है।
हर गम की घटा बरस हरियाली बोती है।
जिन्दगी में उम्मीद की लौ जलाए रखना,
फूल से फल की संज्ञा सपने संजोती है।
?????
बेवफाई भी किसी की बहुत कुछ सिखाती है।
धूप से क्या प्यार छाँव देख ये भाग जाती है।
जिंदगी में हर चीज का अपना महत्त्व है,दोस्त!
समझे उसके लिए बेवफाई भी सीख बन जाती है।
?????
राधेयश्याम बंगालिया”प्रीतम”

Author
Recommended Posts
शेर
Pankaj Trivedi शेर Jan 20, 2017
हर किसी को मैंने अपने वजूद के लिये खेलता हुआ यहाँ देखा है पता नहीं क्यूं उसके लिये वो मज़हब और इंसानियत से खेलता है... Read more
मुक्तक
हर तरफ लगी होड़ ,ये दौड़ कैसी है मानवी आधार भी ताख पर रखी जैसी है जीवन के सुखद पहलू भी नजर अंदाज कर हर... Read more
शेर :-- मेरे कुछ शेर -भाग -1 !!
शेर :-- मेरे कुछ शेर -भाग -1 !! दर्द दिल से रो पड़ी अब तो कलमें भी यहाँ ! कब तलक लिखते रहेंगे प्यार की... Read more
शेर
bunty singh शेर Nov 24, 2016
''शहर में हर शख्स तनहा अनमना बहरा मिला कोठियाँ सब की अलग सब का जुदा कमरा मिला' . . . . . ;;रौनकें ही रौनकें... Read more