गीत · Reading time: 1 minute

चिड़िया रानी

गीत
चिड़िया रानी एक कहानी
कहती थी बच्चों से नानी

बच्चों की जब मुराद पाई
औचक ख़ुशी से चहचहाई
ममता में फिर तुम दीवानी
ढूंढ रही थी दाना-पानी
रहती थी जैसे हो रानी
चिड़िया रानी…………

प्राण खुश्क जब बच्चे बिलखें
माँ की ममता कौन न निरखे
बारम्बार उनको खिलाती
खुद चाहे भूखी रह जाती।
चिड़िया देखो बहुत सयानी
चिड़िया रानी………….

बड़े हुए उड़ना सिखलाया
उड़े हो गया नीड़ पराया
बच्चों तुम माँ को न भुलाना
सदा दूध का कर्ज चुकाना।
करना कभी नहीं मनमानी
चिड़िया रानी……………..
…शारदा मदरा…

64 Views
Like
56 Posts · 2.9k Views
You may also like:
Loading...