*"गीत"*

*”गीत”*
गीत गाये ,भाव आये,
सुर तेरे ,गीत मेरे।

गीत गाओ ,मीत आओ ,
मोह जागे ,नेह धागे।

प्रेम पाऊँ ,झूम जाऊँ,
देख भूली, डाल झूली।

प्रीत धागा ,संग बांधा ,
चाह तेरी ,राह मेरी।

फाग आया ,रंग लाया,
गीत गाया ,साथ भाया।

साज बाजे ,ढोल बाजे ,
गीत गाते ,झूम जाते।

*शशिकला व्यास*✍️

2 Likes · 34 Views
एक गृहिणी हूँ मुझे लिखने में बेहद रूचि रखती हूं हमेशा कुछ न कुछ लिखना...
You may also like: