गीत :-- दिल नें तुझे पाने के सपने संजोये हैं !!

गीत :– तुझे पाने के सपने संजोये हैं !!

तेरी याद मे हमने अपनी पलकें भिगोये हैं !
दिल ने तुझे पाने के सपने संजोये हैं !!

तरस रही आँखें तेरा दीदार पाने को ,
हर मुमकिन कोशिश किये तुझे मनाने को ,
इन आखों को अपने आँसू से धोये हैं !
दिल ने तुझे पाने के सपने संजोये हैं !१!

उठा तूफान दिल मे प्रीत निभाने के वास्ते ,
खोया था हमने आप को पाने के वास्ते ,
रुषबाई मे तन्हाई मे रातों को रोये हैं !
दिल ने तुझे पाने के सपने संजोये हैं !२!

ख्वाबों में रातों को बस तुम ही आते हो ,
हर वार मुझमें जीने की हसरत जगाते हो ,
सपनों के समन्दर से मोती पिरोये हैं !
दिल ने तुझे पाने के सपनें संजोये हैं !३!

एक पल का जीना हुआ मुश्किल जुदाई में !
अब देर कितनी देखना खुदा की खुदाई में ,
हसीन चाँदनी रात को ख्यालों में खोये हैं !
दिल ने तुझे पाने के सपनें संजोये हैं !४!

Anuj Tiwari “Indwar”

Like Comment 0
Views 270

You must be logged in to post comments.

Login Create Account

Loading comments
Copy link to share
Sahityapedia Publishing