.
Skip to content

गीत- जान तिरंगा है

आकाश महेशपुरी

आकाश महेशपुरी

गीत

September 17, 2016

गीत- जान तिरंगा है
÷÷÷÷÷÷÷÷÷÷÷÷÷÷÷÷÷÷÷÷÷÷÷÷÷÷÷÷÷÷÷
आओ मिल-जुल कर फहराएँ शान तिरंगा है।
मेरी-तेरी, तेरी-मेरी, जान तिरंगा है।।

आजादी की खातिर ही कितनों ने घर छोड़ दिया
अपनों की खुशहाली को जग से नाता तोड़ दिया
धन्य सभी वे लोग बहुत आजादी के दीवाने
प्राण दिए हँसते हँसते हार नहीं बिल्कुल माने
ऐसे वीर जवानों की पहचान तिरंगा है-
मेरी-तेरी, तेरी-मेरी जान तिरंगा है।

कण कण में है छुपी हुई इसी तिरंगे की गाथा
इसके सन्मुख आदर से झुक झुक जाए यह माथा
इसी तिरंगे के नीचे हम सब कसम उठाते हैं
मिट जाएं इसकी खातिर फिर से यह दुहराते हैं
हर भारत वासी का यह सम्मान तिरंगा है-
मेरी-तेरी, तेरी-मेरी जान तिरंगा है।

सच है अमन चाहते हम लेकिन हैं कमजोर नहीं
अपनी रक्षा कर लेते करते केवल शोर नहीं
इस भारत की मिट्टी पर आँच नहीं अब आयेगी
इसका मान रखेंगे हम जान भले ही जायेगी
इस पर मिट मिट जाएंगे अभिमान तिरंगा है-
मेरी-तेरी, तेरी-मेरी जान तिरंगा है।

गीत- आकाश महेशपुरी

Author
आकाश महेशपुरी
पूरा नाम- वकील कुशवाहा "आकाश महेशपुरी" जन्म- 20-04-1980 पेशा- शिक्षक रुचि- काव्य लेखन पता- ग्राम- महेशपुर, पोस्ट- कुबेरस्थान, जनपद- कुशीनगर (उत्तर प्रदेश)
Recommended Posts
मुक्तक (जान)
मुक्तक (जान) ये जान जान कर जान गया ,ये जान तो मेरी जान नहीं जिस जान के खातिर जान है ये, इसमें उस जैसी शान... Read more
मुक्तक (जान)
मुक्तक (जान) ये जान जान कर जान गया ,ये जान तो मेरी जान नहीं जिस जान के खातिर जान है ये, इसमें उस जैसी शान... Read more
वो सनम बता दो क्यों खफ़ा हो मुझसे//गीत
वो सनम बता दो क्यों खफ़ा हो मुझसे मेरी जान जा रही है मिलने आजा मुझसे तुझे चाहेंगे हद से ज्यादा रब की है कसम... Read more
देश  की आवाज़
भारत देश महान हुआ और शक्तिवान ! अंतरिक्ष मे हुआ बड़ा नाम है वैज्ञानिकों पर हमे अभिमान !! @ विजय मिश्र *अभंग* ???????????????????? मेरे देश... Read more