.
Skip to content

गीतिका

ईश्वर दयाल गोस्वामी

ईश्वर दयाल गोस्वामी

गज़ल/गीतिका

March 26, 2017

अगर चाहता है तू खुशियाँ ,दुख तुझको सहना होगा ।
बैठे-बैठे कुछ न होगा , जतन तुझे करना होगा । ।
वज्राघात भले हो जाए , गिरे टूटकर पर्वत ऊपर ,
भूकम्पों का दौर भी आए , तुझे अडिग रहना होगा । ।
सागर उमड़े यदि पीड़ा का ,नदियाँ उल्टी बह निकलें ,
दलदल रोके मार्ग यदि तो , तुझे नहीं मुड़ना होगा ।।
तेरा चलना चलते रहना , राह दूसरों को देगा ,
केवल मानवता के पथ पर , तुझे सदा चलना होगा ।।
अवरोधक आँधी आएगी ,अगर चलेगा राह सत्य की,
तूफानों की बौछारों में , तुझे न पल हिलना होगा ।

-ईश्वर दयाल गोस्वामी।

Author
ईश्वर दयाल गोस्वामी
-ईश्वर दयाल गोस्वामी कवि एवं शिक्षक , भागवत कथा वाचक जन्म-तिथि - 05 - 02 - 1971 जन्म-स्थान - रहली स्थायी पता- ग्राम पोस्ट-छिरारी,तहसील-. रहली जिला-सागर (मध्य-प्रदेश) पिन-कोड- 470-227 मोवा.नंबर-08463884927 हिन्दीबुंदेली मे गत 25वर्ष से काव्य रचना । कविताएँ समाचार... Read more
Recommended Posts
कर्मनिष्‍ठ बनना होगा
गीतिका (लावणी छंद) कर्म पथिक जो होना है तो, कर्मनिष्ठ बनना होगा। सत्यजीत जो होना है तो, सत्यनिष्ठ बनना होगा। कंटकीर्ण होती हैं राहें, दिखे... Read more
हमको चलना होगा...
?? हमको चलना होगा। ?? अभिलाषाओं के नव-पथ पर, अब हमको चलना होगा। आलोकित करने जग-जीवन, दीपक सम जलना होगा। विकट हवाएँ मग रोकेंगी, पर... Read more
**  मुक्तक **
* गुल-ए-गुलशन से कोई फूल तो चुनना होगा । अरे भ्रमर फिर पछतायेगा जब ग़म-ए-उल्फ़त से चूर तुझे होना होगा ।। भीड़ में चलते हुए... Read more
हमको लड़ना होगा---कविता---  डी. के. निवातियाँ
हमको लड़ना होगा …….. बिगड़े हुए हालातो से डटकर हमको लड़ना होगा समझ के वक़्त की चाल अब हमको चलना होगा !! कब तक बहेगा... Read more