Skip to content

ग़ज़ल :– चाँदनी रात आई है !!

Anuj Tiwari

Anuj Tiwari "इन्दवार"

गज़ल/गीतिका

June 8, 2016

!!! चांदनी रात आई है !!!
गज़लकार :- अनुज तिवारी “इंदवार”

शोले इश्क के दहकाती चांदनी रात आई है !
प्यार के नग्मे दुहराती चांदनी रात आई है !!

सजा कर ख्वाब की डोली सितारे साथ लेकर के !
दुल्हन सी सरमाती चांदनी रात आई है !!

लगाकर चांद की बिंदिया रौनक चांदनी लेकर !
जुल्फों को लहराती चांदनी रात आई है !!

होठ मे ओस की बूंदे नुमाइस प्यार की करती !
मिलन के गीत गुनगुनाती चांदनी रात आई है !!

शोले इश्क के भडकाती चांदनी रात आई है !
प्यार के नग्मे दुहराती चांदनी रात आई है !!

अनुज तिवारी “इन्दवार”

Author
Anuj Tiwari
नाम - अनुज तिवारी "इन्दवार" पता - इंदवार , उमरिया : मध्य-प्रदेश लेखन--- ग़ज़ल , गीत ,नवगीत ,कविता , हाइकु ,कव्वाली , तेवारी आदि चेतना मध्य-प्रदेश द्वारा चेतना सम्मान (20 फरवरी 2016) शिक्षण -- मेकेनिकल इन्जीनियरिंग व्यवसाय -- नौकरी प्रकाशित... Read more
Recommended Posts
ग़ज़ल
कोई साज़ है न सुरूर है ये सज़ा किसे मंज़ूर है कुछ पास है कुछ दूर है प्यार कितना मजबूर है रात पकाएगी अब रोटी... Read more
पूस की इस चांदनी रात
पूस की इस चांदनी रात तुम चलोगी कुछ दूर साथ? जवानी के जिस रस्ते पर मै चल रहा था वो मुझे सपने में ले जा... Read more
==* है बधाई ईद आई *==
है बधाई है बधाई ईद आई ईद आई है बधाई ईद आई दिली बधाई है मेरे भाई हिंदू मुस्लिम सिख इसाई जश्न-ईद का साथ मनाये... Read more
रात ही जब हुई मुख़्तसर
आदाब दोस्तो! आज रात फ़िलबदीह में हुई बहुत ही छोटी बह्र की एक ग़ज़ल कुछ यूँ- मतला- गो है आवारगी बेश्तर हो गए शे’र अपने... Read more