कविता · Reading time: 1 minute

गजानन जग की विपति हरो

गजानन जग की विपति हरो ।
हे देवाधिदेव गण नायक संकट दूर करो ।
प्रथम पूज्य गिरजा नंदन सब देवन नाम धरो ।
एक विषाणु के भय से संसार सकल बिगरो ।
महा व्याधि से संकट में है मानव अब सगरो ।
कोउ उपाय सूझत है नाहीं निश दिन जात मरो ।
विष की बेलि बनी बीमारी सब जग देखि डरो ।
खोज खोज औषधि हारे सब बुद्धि बल बिखरो ।
भगत समूह विनती लेकर के शरण में आनि परो ।
बिना तुम्हारी कृपा दृष्टि से संकट नाहीं टरो ।
दीनबंधु संकट हर प्रभु घट करुणा नीर भरो ।

2 Likes · 32 Views
Like
180 Posts · 5.2k Views
You may also like:
Loading...