23.7k Members 49.8k Posts

गज़ल

आसान नहीं है सहना दिल की पीर
अक्सर दिल हो ही जाता है अधीर
बहुत किया प्रयास बदलने का,मगर
नहीं बदली मेरे भाग्य की लकीर …..

⚡नीलम शर्मा ⚡
चल पंख लगा फिर सपनों को
तू फिर से ले उडान ए मन
हर पल एक प्रतियोगिता है
उसे जीत के जी ले ये जीवन
सुनले जीवन क्षण भंगुर है
गेरों को भी दे तू अपनापन

@नीलम शर्मा @

Like Comment 0
Views 5

You must be logged in to post comments.

LoginCreate Account

Loading comments
Neelam Sharma
Neelam Sharma
370 Posts · 12.3k Views