23.7k Members 49.8k Posts

खुशबु

Jan 25, 2017

फूलों से निकल कर खुशबु
कमरे मे आ रही थी
हल्की हल्की भीनी भीनी खुशबु
दिल को लुभा रही थी
कमरे का कोना कोना
महका रही थी
अन्दर जाती हुई हर सांस
शरीर के हर अंग को
आनन्दित कर रही थी
दिखाई न देने के बाद भी
अपने होने का आभास
करवा रही थी
उस रूह को जो दिखाई नही देती
अपनी तरह सबके दिलों मे
चुपके से उतर जाने का
हुनर सिखा रही थी ।।

राज विग

Like 1 Comment 0
Views 166

You must be logged in to post comments.

LoginCreate Account

Loading comments
Raj Vig
Raj Vig
Delhi
113 Posts · 6.7k Views