खास जगह

मेरा मन तो चल पड़ा , खास जगह की ओर।
जहां प्रेम ही प्रेम है , मधुर सुहानी भोर।।
-वेधासिंह

Like Comment 0
Views 3

You must be logged in to post comments.

Login Create Account

Loading comments
Copy link to share