Mar 20, 2017 · कविता

क्षणिका :-- दिल में तू.......।।

क्षणिका :–

दिल में तू बसी है ,
होठों पर हँसी है
क्या तू तड़पायेगी सदा ।
आँखों में तेरा चहरा ,
पलकें देती पहरा
कहीँ हो न जाए तू जुदा ॥

अनुज तिवारी “इंदवार”

1 Like · 2 Comments · 164 Views
नाम - अनुज तिवारी "इन्दवार" पता - इंदवार , उमरिया : मध्य-प्रदेश लेखन--- ग़ज़ल ,...
You may also like: