क्या हम बताएं

क्या हम बताए ।
कैसे दिखाए ।
कि कितना हैं तुमसे प्यार जी ।
मदमस्त हवाएं बहती जाए ।
सागर के पानी लहराए जी ।
दिल में है उठती हलचल से मेरे ।
मन समाया है कोई जी ।
क्या हम बताए ।
कैसे जताए ।
कि कितना हैं तुमसे प्यार जी ।
होठो की लाली ।
लगती है ऐसे ।
कर देगी कुछ ये घायल जी ।
अपनी हैं मंजिल और कही पर ।
तुम्ही में खोया आकर जी ।
लगता है तुम बिन ।
मेरा ये जीवन ।
जैसे की जल बिन मीन जी ।
क्या हम बताए ।
कैसे दिखाए ।
कि कितना हैं तुमसे प्यार जी ।

❤❤Rj Anand Prajapati ❤❤

Like 1 Comment 2
Views 10

You must be logged in to post comments.

Login Create Account

Loading comments
Copy link to share