कविता · Reading time: 1 minute

कोरोना पाजिटिव

खौफ तेरे नाम का
जाता नही
आज डरा सहमा हर
इक इंसान है ।

कहां छुपा बैठा है
पता नही
तेरे वार से खबरदार हर
इक सरकार है ।

नीयत क्या है तेरी कोई
जानता नही
लगता तबाही करने का तेरा
इक इरादा है ।

संसार की सूनी गलियों मे
आवाम नही
कोरोना पाजिटिव के साये मे घूमता
इक यमराज है ।।

राज विग 03.04.2020.

2 Likes · 84 Views
Like
Author
136 Posts · 14.9k Views
Working as an officer in a PSU. vigjeeva@hotmail.com
You may also like:
Loading...