Jan 12, 2021 · कविता
Reading time: 1 minute

कोरोना जागरूकता अवधी गीत

आयी महामारी मत घबराव। करो ना लापरवाही ।।
कोरोना के संकरमन से व्याकुल दुनिया सारी,
धीरे-धीरे फैल गई जन-जन में यह बीमारी,
जागो जागो जागरूक बनाव।करो ना लापरवाही।।
बिना काम के कदम धरो ना घर के बाहर अब से,
भाईचारा बना रहै पर कसौ किनारा सब से,
भागो भागो दूरि सब का भगाव।करो ना लापरवाही।।
भीड़भाड़ से बचे रहौ ना कहू से हाथ मिलायौ,
दिन म कई बार साबुन से आपनि कर चमकायौ,
बचो बचो खुद सब का बचाव।करो ना लापरवाही।।
सर्दी खांसी सांस रुकै औ ताप हुवै तन भारी,
नाक बहै औ बदन दर्द तो तुरतै करो तयारी,
जाव जाव “प्रेमी” जांच कराव। करो ना लापरवाही।।
——- सतगुरु प्रेमी (रायबरेली)

Votes received: 27
11 Likes · 18 Comments · 309 Views
Copy link to share
Dr.Satguru Premi
7 Posts · 877 Views
Follow 2 Followers
मैं सतगुरु प्रेमी बेसिक शिक्षा परिषद् द्वारा अध्यापक हूँ, गीत,गजल,छन्द और कविताएँ लेखन में मेरी... View full profile
You may also like: