कविता · Reading time: 1 minute

“कोरोना कोहराम: प्रशासन का संघर्ष अविराम”

कोरोना कोहराम सतत जारी है,
प्रशासन ने भी की पूरी तैयारी है।
आकड़ो में निरंतर बदलाव है,
पर प्रशासन के पास बचाव के सुझाव है।
सफाई के नियम हमारे पास है,
मजबूत लोकतंत्र पर हमें पूर्ण विश्वास है।
कोरोना विषाणु ने घरों में कैद किया है,
प्रशासन ने नियम का सख्ती से पालन का निर्देश दिया है।
कोरोना संक्रमण ने विश्व मे हर तरफ इजाफा किया है,
प्रशासन ने भी मानव हित में कदम बढ़ाने का निर्णय लिया है।
सोशल डिस्टेन्सिंग को अमल में लाना है,
प्रशासन के साथ पूर्ण सहयोग निभाना है।
सकारात्मक सोच से सामने आना है,
प्रशासन पर पूर्ण विश्वास बताना है ।
जनमानस ने भी अनुशासन में रहने का संकल्प लिया है,
प्रशासन ने भी कोरोना संक्रमण घटाने का प्रण लिया है।
सुरक्षित मुस्कुराता राष्ट्र हमे बनाना है,
प्रशासन के साथ मिलकर कोरोना को सबक सिखाना है।
कोरोना की केवल सोशल डिस्टेन्सिंग ही दवाई है,
प्रशासन ने लॉकडाउन से यह कड़ी सुलझाई है।
इस जिंदगी को ऐसे नही खोना है,
प्रशासन ने कहा हर समय हाथ धोना है।
बाहर निकलने तो कोरोना फैलना है,
प्रशासन की सक्रिय भूमिका को बाधित करना है।
कोरोना के खिलाफ हमारी भी जिम्मेदारी है,
प्रशासन के मनोबल को बढ़ाने में हमारी भी हिस्सेदारी है।
भारत को विश्व गुरु बनाना है,
प्रशासन के अनवरत संघर्ष को सफल बनाना है।

1 Like · 2 Comments · 34 Views
Like
You may also like:
Loading...