Apr 21, 2021 · कविता
Reading time: 1 minute

कोरोना के बाद

कोरोना के बाद
#हास्य व्यंग्य
अतुकांत कविता

कोरोना के बाद
दावे होगे हजार
फला दवा थी दमदार
भविष्यवाणी भी पचास
अमुक मंत्र असरदार
झाड़फूक का कमाल
टोना टोटका सफल
रसोई घर से हुआ इलाज
नहीं थी कोई बीमारी
भय से बिगड़े थे हालात
ऐसा वैसा करना था
हमने पहले ही कहा था
हास्य व्यंग्य नहीं साहब
हकीकत समझना
संक्रमण से बचा हूँ
इसलिए आए विचार
भाई अभी अवसर है
अजमालो सब नुस्खे
कोरोना हारने के बाद
प्रमाण होना चाहिये
मरी नहीं एक भी मक्खी
फिर भी तीस मारखाॅ होंगे
सैकड़ों मंचों पर जाकर
अपनी ढपली बजायगे
छिपकर युद्ध देखने वाले
श्रेय सम्मान पायगें।

राजेश कौरव सुमित्र
नरसिंहपुर मध्य प्रदेश

2 Likes · 2 Comments · 54 Views
Rajesh Kumar Kaurav
Rajesh Kumar Kaurav
95 Posts · 10.7k Views
Follow 5 Followers
उच्च श्रेणी शिक्षक के पद पर कार्यरत,गणित विषय में स्नातकोत्तर, शास उ मा वि बारहा... View full profile
You may also like: