31.5k Members 51.9k Posts

कैसे दरिंदे शहर में मेरे

Mar 29, 2020 06:05 PM

गिराते हैं हर पल ये बढ़ने न दे
मेरे भय को मुझसे ये लड़ने न दे
है कैसे दरिंदे शहर में मेरे
परिंदो के पर काटे उड़ने न दे

1 Like · 2 Comments · 8 Views
Gautam Jain
Gautam Jain
हैदराबाद
74 Posts · 994 Views
ग़ज़ल , कविता , हाइकु , लघुकथा आदि लेखन प्रकाशित रचनाएं:--- काव्य संरचना, विवान काव्य...
You may also like: