कुदरत

कुदरत ने लिखा था तुझको मेरी तमन्नाओं में,

मेरी किस्मत में तुम न थे ये और बात है…!!!

3 Likes · 1 Comment · 12 Views
Nisha garg Own And Famous writer's poem, Shayari, Gajal, etc email I'd gargnisha718@gmail.com
You may also like: