Dec 15, 2019 · मुक्तक
Reading time: 1 minute

कुछ शेर…

1-
ज़िन्दगी तुझ को जैसे चलना है वैसे ही चल!
हमने तुझ से सब उम्मीदें वैसे भी छोड़ दी हैं!
2-
आ जाना तुम जब टूट कर बिखर जाओ!
बहुत पसन्द हैं मुझ को अपने जैसे लोग!
3-
किस्मत लगी हुई हैं रोज़ मुझको हराने में!
देखना एक दिन किस्मत मैं खुद लिखुंगा!
4-
ऐ दिल तड़पना बंद कर तु रातो को सोता क्यूँ नही!
वो किसी का हो गया तू किसी का होता क्यूँ नही!
5-
एक दिन करेगा जमाना हमारी भी कदर!
एक बार वफादारी की आदत छुट जाये!
🍁-AnoopS©

7 Likes · 22 Views
Copy link to share
Anoop Sonsi
244 Posts · 5.4k Views
Follow 5 Followers
Manager HR & Admin View full profile
You may also like: