Skip to content

कुंडलिया छंद……..???

Radhey shyam Pritam

Radhey shyam Pritam

कुण्डलिया

July 4, 2017

कारण बिन कार्य संभव,कैसे हो बताओ।
सूर्य निकले धूप होय,वरना छाँव पाओ।।
वरना छाँव पाओ,साधारण है ये बात।
सुना यही आज तक,बिना बादल न बरसात।
सुन”प्रीतम”की बात,अंधभक्ति करो तारण।
एक वस्तु न पैदा,धरती पर बिना कारण।
●●●●●●●●●●???
खुशी किसी की देखकर,न जलना तू यारा।
दूसरे का सुख अपना,समझे खुदा प्यारा।।
समझे खुदा प्यारा,जलन न रीस करले तू।
सबसे गले मिलकर,मोक्ष प्राप्त करले तू।
सुन”प्रीतम”की बात,खुशी बदले मिले खुशी।
दर्द देकर पर को,भूले से न मिले खुशी।
●●●●●●●●●●???
आदर सबको दीजिए,पुन्य की यह बात।
एक हाथ दे एक ले,न करना खुराफात।।
न करना खुराफात,समय समझ साथ रखिए।
तालमेल से बंधु, जीवन का स्वाद चखिए।
सुन प्रीतम की बात,दिमाग़ को नमन सादर।
शोहरत पाकर तू,दंभ ना कर कर आदर।
*************राधेयश्याम
?????बंगालिया
?????प्रीतम
सर्वाधिकार सुरक्षित कुंडलिया radheys581@gmail.com

Author
Recommended Posts
गीत :अ दोस्त मेरे....दूर क्यों बैठा है तू
अ दोस्त मेरे, दूर क्यों बैठा है तू पास आ, कोई बात तो कर ले। ये दिल है तेरा........... मुलाक़ात तो कर ले। अंतरा-1 अपनो... Read more
सुन प्रीतम की बात....याद रखें सभी
सुन प्रीतम की बात..कुंडलिया छंद ????????????? सभी के लिए ही गलत,धारणा लिए फिरें। काँटें हैं वो लोग रे,फूल कों चोट करें।। फूल को चोट करें,काहें... Read more
कुंडलिया छंद........???
सुन प्रीतम की बात..कुंडलिया छंद ************************** 1..कुंडलिया ************************** हौंसला न हारिए रे,बढ आगे तुफां बन। जीतेगा तू ही यार,चल रे फलसफा बन।। चल रे फलसफा... Read more
कविता : हर समस्या का समाधान होता है......???
हे मानव क्यों छोटी-छोटी बातों पर तू परेशान होता है। इस धरती पर तो पगले हर समस्या का समाधान होता है। विधाता ने जीवन के... Read more