.
Skip to content

किसानो की आवाज़

ज़ैद बलियावी

ज़ैद बलियावी

कविता

February 20, 2017

न चाहते हूए भी ऐसी बात लिख रहा हु,
दर्द मे डूबकर जज़्बात लिख रहा हूँ!
हमने देखा है देश मे जो किसानो का हाल,
बनकर हमदर्द मैं उनकी आवाज़ लिख रहा हूँ!!
इस देश को हरे से हरा बनाया है हमने,
मानसून से लड़कर अनाज उपजाया है हमने!
न छोड़ी कोई कसर अपनी मेहनतो मे ज़ैद,
इस देश को बुलन्दियों तक पहुचाया है हमने!!
न गर्मी,न सर्दी की परवाह किए निकले थे,
जय जवान-जय किसान की आवाज़ लिए निकले थे!
क्या पता था ऐसे बिखर जाएँगे हम,
हम तो देश के साथ सवरने का अरमान लिए निकले थे!!
मेरी आवाज़ को न ऊपर उठाया गया,मेरे ज़ख्मो पर न मरहम लगाया गया!
आती है अखबारो मे ख़बरे मेरी मौत की,
मेरे दर्द को न उन तक पहुचाया गया!!
मेरी आवाज़ को ऊपर उठाया तो जाए,
राजनीति के गलियारों मे पहुँचाया तो जाए!
हमने भी तो बढ़ाया है शान इस देश का,
अच्छे दिनों के चक्कर मे हमे भुलाया न जाए!!
नन्हे हाथो से बड़ी बात लिख रहा हूँ,
मायूस कलम से उनकी औकात लिख रहा हूँ!
चुनाव जीत कर बन जाते है वो रईसो के गुलाम,
मैं तो बस ग़मगीन किसानो की आवाज़ लिख रहा हूँ!!
जिसे सवरना-सवारना था देश वो बिखर रहे है,
हमारे देश मे किसान मर रहे है!
क्यों न लिखे हमारी कलम भी उनका दर्द,
जो बचे है वो भी जीते-जी मर रहे है!!

(((((ज़ैद बलियावी)))))

Author
ज़ैद बलियावी
नाम :- ज़ैद बलियावी पता :- ग्राम- बिठुआ, पोस्ट- बेल्थरा रोड, ज़िला- बलिया (उत्तर प्रदेश). लेखन :- ग़ज़ल, कविता , शायरी, गीत! शिक्षण:- एम.काम.
Recommended Posts
लिख देना
नफरतों के बाजारों में तुम प्यार लिख देना बिखरती जुल्फ को मेरा सलाम लिख देना अगर लिखना है तुमको तो मेरी तुम बात सुन लेना... Read more
नाम जवानी लिख देंगे .......डी. के. निवातियां
नाम जवानी लिख देंगे ....... हम देश प्रेमी है, अपनी जान हथेली रख देंगे वतन की रखवाली पे नाम जवानी लिख देंगे ! इस दुनिया... Read more
देश  की आवाज़
भारत देश महान हुआ और शक्तिवान ! अंतरिक्ष मे हुआ बड़ा नाम है वैज्ञानिकों पर हमे अभिमान !! @ विजय मिश्र *अभंग* ???????????????????? मेरे देश... Read more
भारत माँ मैने भी कसम खाई है
एक जवान कि शहादत देख कर मेरा दिल काँप गया, क्या कसूर था उसका जो वार उस पर हो गया !! इस खून का बदला... Read more