किताब / पुस्तक

वर्ण पिरामिड
शीर्षक – किताब / पुस्तक
—————–

ये
ज्ञान
सागर
अनमोल
अपरम्पार
पुस्तक संसार
जाने वो ही समझे !

***

२)
है
यह
खजाना
ज्ञान मित्र
बढ़े रुआब
मूर्खों की दुश्मन
बुद्धि भरी किताब !

****
डॉ. अनिता जैन “विपुला”

Like Comment 0
Views 9

You must be logged in to post comments.

Login Create Account

Loading comments
Copy link to share