Skip to content

काश्मीर पर मिश्रित गीत

मधुसूदन गौतम

मधुसूदन गौतम

गीत

April 16, 2017

मिश्रित गीतिका
+16 व 12 पर यति तुकांत पदांत+
(धुन विशेष में चतुर्थ पंक्ति का दोहरान 10 मात्रिक बंध के निश्चित टेग के साथ)

सन्दर्भ—-काश्मीर में जवानो पर हमला
**********************************

नारे बहुत लगा लिय हमने भारत का काशमीर।
अब बातोसे काम न होगा सुन लो सभी रणधीर।
कूच करों जि पाक के अंदर,हाथ में ले शमशीर।
वरना अपने रोज़ मरेंगे , ये फौज जवान वीर।

वरना अपने रोज मरेंगे फौजी जवान वीर ,
जी तुम गांठ बांध लो ।
हाँ जी तुम गाँठ बांधलो।
करना तो पड़ेगा अब युद्द भी।
भारत माता की जय।*****1****

रोज रोज यह पत्थर फेंके ,किसकी बातों में आये।
इन लातो के भूतो को भैया ,क्यों बातों से समझाये।
जो मूंह पर थप्पड़ मारो तो ,अक्ल ठिकाने आये।
या फिर इनको सीधा ही दो ,धरती में दफनाये।

या फिर इनको सीधा सीधा दो धरती में दफनाये। जी यह गांठ बांध लो।
हाँ जी तुम गाँठ बांधलो।
करना तो पड़ेगा अब युद्द भी।
भारत माता की जय।****2******

आज बिलखती भारत माता कोई तो करो विचार।
भारत माँ के टुकड़े ना हो देखो नहीं हज़ार।
सोच समझलो अभी वक्त है कर लो साज संवार।
अमेडकर गाँधी के सिद्दांत कर रहे बंटाडार।

अमेडकर बापू के सिद्दांत कर रहे बंटाडार जी तूम गांठ बांध लो।
हाँ जी तुम गाँठ बाँध लो, करना पड़ेगा एक युद्द जी।
भारत माता की जय।*****3*******

कब तक आखिर चुप बैठेंगे , हम डरकर बतलाओ।
अब तो थोडा शर्म करो जी, मत इतना घबराओ।
चुप रहने का कारण क्या है,इतना तो समझाओ।
मानवता को जो नही समझे, उनसे तुम टकराओ।

मानवता को जो नही समझे उनसे तुम टकराओ जी ,तुम गांठ बांध लो।
हाँ जी तुम गांठ बांध लो करना पड़ेगा अब युद्द भी।
भारत माता की जय।

+++++मधु गौतम

Share this:
Author
मधुसूदन गौतम
मै कविता गीत कहानी मुक्तक आदि लिखता हूँ। पर मुझे सेटल्ड नियमो से अलग हटकर जाने की आदत है। वर्तमान में राजस्थान सरकार के आधीन संचालित विद्यालय में व्याख्याता पद पर कार्यरत हूँ।

क्या आप अपनी पुस्तक प्रकाशित करवाना चाहते हैं?

साहित्यपीडिया पब्लिशिंग से अपनी पुस्तक प्रकाशित करवायें और आपकी पुस्तक उपलब्ध होगी पूरे विश्व में Amazon, Flipkart जैसी सभी बड़ी वेबसाइट्स पर

साहित्यपीडिया की वेबसाइट पर आपकी पुस्तक का प्रमोशन और साथ ही 70% रॉयल्टी भी

साल का अंतिम बम्पर ऑफर- 31 दिसम्बर , 2017 से पहले अपनी पुस्तक का आर्डर बुक करें और पायें पूरे 8,000 रूपए का डिस्काउंट सिल्वर प्लान पर

जल्दी करें, यह ऑफर इस अवधि में प्राप्त हुए पहले 10 ऑर्डर्स के लिए ही है| आप अभी आर्डर बुक करके अपनी पांडुलिपि बाद में भी भेज सकते हैं|

हमारी आधुनिक तकनीक की मदद से आप अपने मोबाइल से ही आसानी से अपनी पांडुलिपि हमें भेज सकते हैं| कोई लैपटॉप या कंप्यूटर खोलने की ज़रूरत ही नहीं|

अधिक जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करें- Click Here

या हमें इस नंबर पर कॉल या WhatsApp करें- 9618066119

Recommended for you