काला धन

विषय – काला धन

काले मन से जो कमाया जाता है ,
काले कामों में जो लगाया जाता है ।
वह काला धन कहलाता है ।।

नोट बदलने के ऐलान से ,
मोदी जी की हो रही जय जयकार है ।
काला धन रखने वालों में ,
मचा हाहाकार है ।।
जोड़ा हुआ अब तक का जो भी ,
कुछ भी काम ना आएगा ।
काले कामों का काला पैसा ,
मिट्टी में मिल जाएगा ।।
जोड़े रखा जिसको अब तक
वो छोड़ने का दिन आया है ,
वरना टैक्स की भरमार है ,
पैनल्टी की मार है ।
छापे का डर ,
सिर पर सवार है ।।
काला धन अब काला होगा ।
हाल तेरा क्या लाला होगा ?
नोटों की भरमार है ।
अब लाला का बेड़ा पार है ।।
लाला का बुरा हाल है ।
लाला का काला धन उसका काल है ,
चिंता में लाला बेहाल है ।।
यहाँ वहाँ ना जाने कहाँ कहाँ ,
लाला अपनी व्यवस्था बनाने में लगा है ।
लाला का जोड़ा धन ही ,
उसे घटाने लगा है ।।
इस संदर्भ से सब लो सीख ।
ना काला धन जोड़ेंगे,
ना जोड़ेंगे भीख।।

– नवीन कुमार जैन

क्या आप अपनी पुस्तक प्रकाशित करवाना चाहते हैं?

साहित्यपीडिया पब्लिशिंग द्वारा अपनी पुस्तक प्रकाशित करवायें सिर्फ ₹ 11,800/- रुपये में, जिसमें शामिल है-

  • 50 लेखक प्रतियाँ
  • बेहतरीन कवर डिज़ाइन
  • उच्च गुणवत्ता की प्रिंटिंग
  • Amazon, Flipkart पर पुस्तक की पूरे भारत में असीमित उपलब्धता
  • कम मूल्य पर लेखक प्रतियाँ मंगवाने की lifetime सुविधा
  • रॉयल्टी का मासिक भुगतान

अधिक जानकारी के लिए इस लिंक पर क्लिक करें- https://publish.sahityapedia.com/pricing

या हमें इस नंबर पर काल या Whatsapp करें- 9618066119

Like Comment 0
Views 32

You must be logged in to post comments.

Login Create Account

Loading comments
Copy link to share