कारगिल विजय दिवस

कारगिल विजय दिवस पर…….

हवा का रुख किधर होगा सही पहचानते हैं हम
वही करके दिखा देते जो मन में ठानते हैं हम।
वतन का कर्ज़ है हम पर हमारे खूं का हर कतरा
इसे कैसे चुकाना है ब खूबी जानते हैं हम। –आर.सी.शर्मा “आरसी”

1278 Views
गीतकार गज़लकार अन्य विधा दोहे मुक्तक, चतुष्पदी ब्रजभाषा गज़ल आदि। कृतिकार 1.अहल्याकरण काव्य संग्रह 2.पानी...
You may also like: