Skip to content

* कहने वाले मिले हैं मुझसे *

भूरचन्द जयपाल

भूरचन्द जयपाल

गीत

May 3, 2017

प्रारम्भिक बोल
आज की दुनियां में प्यार की बात
करते हैं लोग दुनियादारी की तरह
पर प्यार करने वालो के लिए यह
बात वियोग की रात से कम नहीं
पर तुम्हारी बात कुछ ओर है ।।
***
कहने वाले मिले हैं मुझसे बहुत
जो कहते है मुझसे आई लव यू
झांके जो उनके अंदर जो दिल के
मैला मिले क्यूं उनका दिल यूं
ना जाने दुनियां वाले क्यूं कहते
उनके दिल को फिर भी दिल क्यूं
प्रीत लगाके मीत बनाके होते है
क्यूं वो दिल से दूर क्यों दुनिया की नज़रों में हो जाते मशहूर
मजबूर दिलवाले हो जाते है ठाले
प्यार वफ़ा की क़ीमत वो क्या जाने
रह जाते हैं वो प्यार से महरूम
प्यार करो तो ऐसा करो यारों
हो जाए सब ग़म दिल जो दूर
प्यार नही है खेल खिलौना
खेल-खेल में तोड़ो जो यारों
प्यार है वो पूजा का फूल
इबादत में दिल की चढ़
फिर न हो कोई भूल
प्यार इबादत है ख़ुदा की
प्यार है अल्लाह का नूर
जगमग करे दिल-घर हो रोशन
प्यार नही है सौदा ओ यारों
जो हम ख़रीदे हाट-बाजारों
प्यार करते हैं हम भी दोनों
पर है हम मजबूर दिल से
दिल को दिल की चाह लगी है
आहे जो भरते रहकर यूं दूर ।।
कहने वाले मिले हैं मुझसे बहुत
जो कहते है मुझसे आई लव यू ।।

?मधुप बैरागी

Author
भूरचन्द जयपाल
मैं भूरचन्द जयपाल स्वैच्छिक सेवानिवृत - प्रधानाचार्य राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय, कानासर जिला -बीकानेर (राजस्थान) अपने उपनाम - मधुप बैरागी के नाम से विभिन्न विधाओं में स्वरुचि अनुसार लेखन करता हूं, जैसे - गीत,कविता ,ग़ज़ल,मुक्तक ,भजन,आलेख,स्वच्छन्द या छंदमुक्त रचना आदि... Read more
Recommended Posts
किसी दिल को मिले जब गम तो कोई बात होती है
किसी दिल को मिले जब गम तो कोई बात होती है किसी गम से मिले जब हम तो कोई बात होती है बिछड़ कर तुमसे... Read more
** कोई बात नही **
बात-बेबात मुझसे ना कर बात कोई बात नहीं कर दे कत्ल दिल-ए-जज़्बात कोई बात नहीं दे दे ग़म की सौगात ऐसे दिल-हालात ना कर अपना... Read more
** दुनियां हमसे जलने लगी है **
ख्वाहिशें अब दिल में पलने लगी है दुनियां अब हमसे जलने लगी है अब तुम मेरी पनाह में रहने लगी है दुनियां इसको गुनाह कहने... Read more
मुझसे भी कोई प्यार करे ....
मुझसे भी कोई प्यार करें... एक अरमान हैं दिल में मुझसे भी कोई प्यारी-प्यारी बात करें दे हमेशा साथ मेरा मुझसे भी कोई प्यार करें... Read more