कविता · Reading time: 1 minute

कश्मीर समस्या के समाधान –आर के रस्तोगी

(“कहनी है एक बात मुझे देश के पहरेदारो से” की तर्ज पर)

कहनी है एक बात मुझे,इस देश के वफादारो को |
पहले तो गोली मारो,देश में बसे हुए गद्दारों को ||

खाते है जो भारत का,गाते है पाक का उन पर न विश्वास करो |
यही तो है देश के असली दुश्मन,इन पर एक दम आघात करो ||

की थी नेहरु ने जो गलती,उसका तुम अब सुधार करो |
370 व 35 A धारा को,देश के सविधान से खत्म करो ||

गर्म है लोहा अब तो,इस पर अब तुम करारी चोट करो |
वरना तुम पछताओगे,इस पर जल्दी से तुम वार करो ||

दी है जो कुर्बानी जवानो ने,उनके परिवारों का सम्मान करो |
उनकी आर्थिक समस्या का,एक दम अब तुम समाधान करो ||

जो लगाते है देश विरोधी नारे,उन पर देश द्रोह का केस करो |
कन्हैया,सिद्धू जैसे नेताओ को, अब तुरन्त जेल में बन्द करो ||

देश के दुश्मन है जो देश,उनसे अब सम्बन्ध विच्छेद करो |
उनका हुक्का-पानी,दाना पानी,बिल्कुल अब तुम बन्द करो ||

भ्रष्ट नेताओ व अफसरों की,बेनामी सम्प्पति तुम कुर्क करो |
आये जो धन इससे,उसका तुम देश के विकास में व्यय करो ||

लिखना तो बहुत कुछ रस्तोगी ने,पहले इस पर तो अम्ल करो |
कश्मीर समस्या सुलझ जायेगी,इन सबको तुम अब लागू करो ||

आर के रस्तोगी

2 Likes · 1 Comment · 33 Views
Like
607 Posts · 49.2k Views
You may also like:
Loading...