कविता या कहानी नहीं

कैसे कह दूं मैं कोई कहानी।
न मैं कोई कवि न मैं कोई ज्ञानी।।

चंद लफ्ज़ों में कैसे कह दोगे उसकी ज़िन्दगी कहीं।
इन्सान है वो कोई कविता या कहानी न नहीं।।

Like Comment 0
Views 16

You must be logged in to post comments.

Login Create Account

Loading comments
Copy link to share