लेख · Reading time: 1 minute

कर्मों का हिसाब

✒️📇जीवन की पाठशाला 📖🖋️

जीवन चक्र ने मुझे सिखाया की इस धरती पर रिश्वत लेने का नहीं देने का क्रम ज्यादा प्रचलित है ,यहाँ इंसान अपनी सुविधा के लिए -समय बचाने के लिए -अपनी झूटी इज्जत के लिए आगे बढ़ कर खुद सामने वाले को रिश्वत ऑफर करता है …और तो और जब यहाँ हम ईश्वर को सरे आम श्रद्धा -भाव -भेंट के नाम रिश्वत देते हैं तो आम आदमी …,

जीवन चक्र ने मुझे सिखाया की केवल इस झूठे -स्वार्थी समाज में ही तेरा मेरा और रुपयों पैसों का हिसाब किताब होता है बाकी ईश्वर के यहाँ तो केवल और केवल कर्मों का हिसाब होता है …,

जीवन चक्र ने मुझे सिखाया की अगर किसी भी चीज की हम कदर और इज्जत नहीं करते तो ईश्वर एक दिन हमसे वो छिन लेते हैं फिर चाहे वो इंसान हों -विश्वास हो -नौकरी हो या व्यापार …,

आखिर में एक ही बात समझ आई की किसी भी व्यक्ति के ह्रदय /मन में जगह बना लेना /उस व्यक्ति के ह्रदय से पूरी तरह उतर जाना केवल स्वभाव -भाव -नियत और संस्कारों पर निर्भर करता है …!

बाक़ी कल , अपनी दुआओं में याद रखियेगा 🙏सावधान रहिये-सुरक्षित रहिये ,अपना और अपनों का ध्यान रखिये ,संकट अभी टला नहीं है ,दो गज की दूरी और मास्क 😷 है जरुरी …!
🌹सुप्रभात🙏
🔯🔱 विकास शर्मा “शिवाया”🔱
🌈🚩🔯
⚛️🔯☸️🪔🔱

35 Views
Like
110 Posts · 2.4k Views
You may also like:
Loading...