ऐ राम आना धरती पर

ऐ राम आज आना इस धरती पर
आके मेरे विश्वास को तु -2 और मजबूत कर
ऐ राम आज आना इस……………….

तेरा भक्ति करने वाला आज कोई नहीं है
जो तेरा भक्ति कर रहा दुनिया उसे अंधा कही है
आके अंधविश्वास को राम -2 हकीक़त कर
ऐ राम आज आना इस……………….

इंसान अपने कर्मों से आज भटक रहा है
आके देख जा मेरे प्रभु इंसान क्या कर रहा है
संकट में है धर्म आज -2 तुही आके दूर कर
ऐ राम आज आना इस……………….

हाथों में धनुष बाण धर भक्तों का बचाव कर
कलयुगी रावणों को तुम फिर से नरसंहार कर
जय लगन कुमार हैप्पी की -2 विनती स्वीकार कर
ऐ राम आज आना इस……………….

Like Comment 0
Views 7

You must be logged in to post comments.

Login Create Account

Loading comments
Copy link to share
Sahityapedia Publishing