मुक्तक · Reading time: 1 minute

एक दोस्त पुराना

वो जो एक दोस्त पुराना आ गया
याद फिर गुजरा जमाना आ गया
*************************
क्यूं न कैद कर लूं इन लम्हों को
वो जो आये मुस्कराना आ गया
************************
कपिल कुमार
24/07/2016

1 Comment · 69 Views
Like
154 Posts · 6.2k Views
You may also like:
Loading...