31.5k Members 51.9k Posts

एक डायलॉग

★पुराना शेर याद आ गया जो एक सेमिनार में लिखा था मैंने।★

चंद किताबें पढ़कर मेरे सिध्दांतों को समझने की कोशिश न करो।
मेरे सिध्दांतों को समझने के लिये अभी किताबे लिखना बाकी है।

©कलम घिसाई

2 Likes · 15 Views
मधुसूदन गौतम
मधुसूदन गौतम
अटरू राजस्थान
202 Posts · 9k Views
मै कविता गीत कहानी मुक्तक आदि लिखता हूँ। पर मुझे सेटल्ड नियमो से अलग हटकर...
You may also like: