Skip to content

उ.प्र. भी आरक्षण मुक्त हो अब मोदी जी

जयति जैन

जयति जैन "नूतन"

कविता

March 11, 2017

मोदी जी अब हमे एक ही वचन चाहिये
अब उ.प्र. भी आरक्षण मुक्त होना चाहिये…
ना कोई दलित ना कोई बनिया ना ही ब्राह्मण
सारी जातिगत भेदभाव को मिटाईये
अब उ.प्र. भी आरक्षण मुक्त होना चाहिये…
शिक्षा पर सभी का समान हक होना चाहिये
सामान्य भरे 500 तो अन्य के 100 नही होने चाहिये
अब उ.प्र. भी आरक्षण मुक्त होना चाहिये…
जिसने की मेहनत वहीं बस मीठे फल खाइये
अपनी अपनी केटेगिरी में ही नौकरी मिलनी चाहिये
अब उ.प्र. भी आरक्षण मुक्त होना चाहिये…
हिंदू हो या मुस्लिम करोडो में हैं जानिये
तदाद इतनी है तो अल्पसंख्यक नहीं होने चाहिये
अब उ.प्र. भी आरक्षण मुक्त होना चाहिये…
40% एससी 80% सामान्य नहीं बल्कि
चिकित्सा में बराबरी के अंक होने चाहिये
अब उ.प्र. भी आरक्षण मुक्त होना चाहिये…
बुन्देलखंड है शान धरा की इतिहास गवाह है
इसे उ.प्र. से अलग राज्य बनाइये मोदी जी
अब उ.प्र. भी आरक्षण मुक्त होना चाहिये…

लेख िका- जयति जैन , रानीपुर झांसी उ.प्र.

Share this:
Author
जयति जैन
लोगों की भीड़ से निकली आम लड़की ! पूरा नाम- DRx जयति जैन उपनाम- शानू, नूतन लौकिक शिक्षा- डी.फार्मा, बी.फार्मा, एम. फार्मा लेखन- 2010 से अब तक वर्तमान लेखन- सामाज़िक लेखन, दैनिक व साप्ताहिक अख्बार, चहकते पंछी ब्लोग, साहित्यपीडिया, शब्दनगरी... Read more
Recommended for you