उफ़ 2

बजा के पायल मुझको नही सोने देती ।
और खनका के चूङिया मुझको नही सोने देती ।
मै अगर दूर चला जाऊं तो बेचैन लगे ।
पर मुझे पास भी अपने नही होने देती ।

छिपाकर रखती है खुलकर नही आने देती ।
दिल की बातो को बाहर आने नही देती ।
न जाने कौन -सी शर्मो -हया मे है लिपटी ।
प्यार तो करती है जाहिर नही होने देती ।

Rj Anand & Vinamra

Like Comment 0
Views 6

You must be logged in to post comments.

Login Create Account

Loading comments
Copy link to share