Sep 16, 2019 · कविता

उदास इश्क

एक उदास इश्क
मेरी खिड़की से
रोज गुजरती है
पुछती है –
कैसी हो ?
मेरी बेजुबान सांसे ….
मूंक आंखों से
कहती है –
चल रहा है…….

~रश्मि

4 Likes · 4 Comments · 148 Views
जब से लिखना आया तबसे लिखना शुरू की...... पर किसी ने बताया नहीं की लेखन...
You may also like: