.
Skip to content

उत्कर्ष

Shri Bhagwan Bawwa

Shri Bhagwan Bawwa

कविता

June 20, 2017

खेल खेल में हंसते-गाते ज्ञान के दीप जलाएंगे
उत्कर्ष हमारा नाम है​ हम देश का मान बढ़ाएंगे

गुणवत्तापूर्ण शिक्षा का सपना हम साकार करेंगे नाश करेंगे अशिक्षा का रूढ़ियों पर वार करेंगे।
इतिहास नया लिखने चले हैं विश्व नया बनाएंगे उत्कर्ष हमारा नाम है हम देश का मान बढ़ाएंगे

सारी दुनिया प्यार की भाषा संग हमारे बोलेगी
कुदरत हमारी खातिर दरवाजे अमन के खोलेगी
हर घर में गांधी और भगतसिंह मिल जाएंगे उत्कर्ष हमारा नाम है​ हम देश का मान बढ़ाएंगे

Author
Recommended Posts
नाम है शिक्षक हमारा (गीत)
Dr.Priya Sufi गीत Sep 6, 2016
ज्ञान दे कर कल सँवारे, अनुभवों की खान है। नाम है शिक्षक हमारा, राह की पहचान है। हल चलाया ज्ञान का जब, साज सुख अपने... Read more
लिपट गेशुओं से गुजारा करेंगे
तुम्हें हम कभी भी न रुस्वा करेंगे सुबह शाम तेरा ही सजदा करेंगे बड़े मन्नतों से मिला यार मुझको मुहब्बत ख़ुदा से भी ज्यादा करेंगे... Read more
देशगान
हर दिन उठाएँ ये क़सम, भारत के दिलो जान हम। यह दिलो जान से प्यारा, इसके तो दिलो जान हम।। ये महकता गुलशन रहा, महकता... Read more
ये नया साल ........
ये नया साल क्या असलियत में नया हैं या नम्बर ही बदले, छला बस गया हैं। ये नया साल क्या असलियत में नया हैं। क्या... Read more