.
Skip to content

उठने लगे सवाल

RAMESH SHARMA

RAMESH SHARMA

दोहे

April 21, 2017

खबरें वो छापे बहुत, हरदम खबर नवीस !
मिलती हो टी आर पी, जिनसे उन्हें असीम !!

वो जो चाहें सो कहें,…होता नही बवाल!
मैने सच क्या कह दिया, उठने लगे सवाल!!

मेरी सच्ची बात का,ऎसा मिला इनाम!
कांटे मेरी राह मे.,बिछने लगे तमाम!!
रमेश शर्मा.

Author
RAMESH SHARMA
अपने जीवन काल में, करो काम ये नेक ! जन्मदिवस पर स्वयं के,वृक्ष लगाओ एक !! रमेश शर्मा
Recommended Posts
जबसे लेखन करने लगे
*?जबसे लेखन करने लगे?* जब से हम कविताओं का रचन करने लगे,, न जाने कौन कौन से सवाल हम पर उठने लगे,, कहते है जो... Read more
वो सपने को सपना बनाने में लगे हैं, हम सपने को अपना बनाने में लगे हैं, वो तो शर्त लगा रहें हैं बाज़ी जितने की,... Read more
प्यार के दो अल्फाज
Raj Vig कविता Jul 9, 2017
इशारे वो इस कदर दिन मे आजकल करने लगे हैं नींद कम और सपने ज्यादा अब रात आने लगे हैं । जुंबा से चुप हैं... Read more
बीते दिनों को सोचकर, हम पछताने लगे,, जब याद मुझे अपने, गुज़रे हुए दिन आने लगे! फिर सम्भल कर उस वक़्त को, हम भुलाने लगे,,... Read more