इस राह से गुजरते

इस राह से गुजरते तुम्हे देखा था कहीं से
ये वक़्त वो नहीं है पर में गुजरा हूँ यहीं से

करके ये तमन्ना के आजाओ तुम कहीं से
आओगे अब नहीं पर में गुजरा हूँ यहीं से

बातों में बात करते तुम बातों की हंसी से
दिखोगे अब नहीं पर में गुजरा हूँ यहीं से

ले जा रही हे खुशबू मिला के यादो में तुम्ही से
तुम नहीं तो क्या पर में गुजरा हूँ यहीं से

इस रह से गुजरते फिर गुजरा हूँ यही से

2 Comments · 83 Views
You may also like: