Apr 12, 2020 · गीत

*"इतंजार*

*”इंतजार”*
ये घड़ी इंतजार की ,
दहलीज़ जो पार की,
घिरोगे फिर रोग से ,
आफत आ जायेगी।
********************************
सच का सामना करें,
नित नये काम करें ,
समय व्यतीत करें,
ईश्वर आराधना करें,
शक्ति आ जायेगी।
***********************************
कोहराम मचा हुआ,
बंद क्यो शहर हुआ,
मानव घर मे कैद हुआ,
समय बिताइए।
***********************************
आफत कोरोना आई ,
सारी दुनिया बदल गई ,
चारों ओर घिर गए हैं,
मन में नीरसता छायेगी।
************************************
हार हो या जीत हो ,
लक्ष्मण रेखा खींच कर,
घर पर सुरक्षित रहकर ,
जिंदगी को बचाईये।
****************************************
जिसे जीना आ गया है,
वो फर्ज निभाया है ,
जगत में छा गया है।
थोड़ा सा मुस्कराइए।
***************************************
,जय श्री कृष्णा जय श्री राधे

3 Likes · 1 Comment · 76 Views
एक गृहिणी हूँ मुझे लिखने में बेहद रूचि रखती हूं हमेशा कुछ न कुछ लिखना...
You may also like: