23.7k Members 50k Posts
Coming Soon: साहित्यपीडिया काव्य प्रतियोगिता

इंसा हाइकू

सीमा से दूर
पंक्षियां गगन में
इंसा है बंधा।।
~:~
मान सम्मान
कर दे अपमान
आज का इंसा
~:~
स्वान , गन्दर्भ
अजगर बना है
ये हठी इंसा
~:~
है मतलबी
वो अपना पराया
देखता इंसा
~:~

©® पांडेय चिदानंद “चिद्रूप”
(सर्वाधिकार सुरक्षित ०५/१२/२०१८ )
——–÷——-

3 Likes · 8 Views
पाण्डेय चिदानन्द
पाण्डेय चिदानन्द "चिद्रूप"
रेवतीपुर, देविस्थान
144 Posts · 3.6k Views
-:- हो जग में यशस्वी नाम मेरा, है नही ये कामना, कर प्रशस्त हर विकट...
You may also like: