31.5k Members 51.9k Posts

आ जाओ प्रभु तारणहार

आ जाओ प्रभु तारणहार ।
लेकर अब कल्कि अवतार ।।

कोरोना शत्रु बड़ा बलवान ।
छुप छुप कर मारे इंसान ।।
यह अदृश्य निर्दयी है क्रूर ।
बिना बुलाए आता नही जरूर ।।

आ जाओ प्रभु तारणहार ।
लेकर अब कल्कि अवतार ।।

त्रेता में बन कर प्रभु श्री राम ।
रावण का किया काम तमाम ।।
द्वापर में बनकर कृष्ण कन्हैया ।
कंस को मार सम्भाली धर्म नैया ।।

आ जाओ प्रभु तारणहार ।
लेकर अब कल्कि अवतार ।।

चहुँओर छाया घोर अंधकार ।
सारे संसार मे मचा हाहाकार ।।
सब ताक रहे विश्व गुरु की ओर ।
है!प्रभु दीजिए खुशियों की भौर ।।

आ जाओ प्रभु तारणहार ।
लेकर अब कल्कि अवतार ।।
।।।जेपीएल।।।

3 Likes · 22 Views
जगदीश लववंशी
जगदीश लववंशी
369 Posts · 13.5k Views
J P LOVEWANSHI, MA(HISTORY) ,MA (HINDI) & MSC (MATHS) , MA (POLITICAL SCIENCE) "कविता लिखना...
You may also like: