.
Skip to content

आ गयी दीपावली , शुभ स्वागतम् है ( गीत ) पोस्ट ३०

Jitendra Anand

Jitendra Anand

गीत

October 17, 2016

आ गयी दीपावली है
*********************
आ गयी दीपावली ,शुभ स्वागतम् है ।
बुझ चले जो दीप हैं, उनको जलाओ ।।

तुम हँसो यों, हम हँसें, सब ही हँसें यों —
लौ हँसे ज्यों दीपकों की फिर सुहानी ,
रात में भी दिन लगे , दिन हों सुहाने ,
पा सकें सब ज़िन्दगी फिर से रवानी ।
जगमगाओ दीप जग- मग , घर सजाओ ।
आ गयी दीपावली , शुभ स्वागतम है।।

तुम खिलो यों , हम खिलें , सब ही खिलें योंंं,
ज्यों क ली खिलती महकती पुष्प बनकर ।
हर किसी को हो चहकता विश्व सारा ,
पर्व शुभ वरदान हो सबको सुअवसर ।
इस तरह दीपावली पावन मनाओ ।
आ गयी दीपावली , शुभ स्वागतम् है ।।

चल सको यदि साथ मेरे चल पडो तुम ,
गंध अपने गॉव की भी पा सकोगे ।
हो मिलन योंं शहर का जब गॉव से भी ,
प्रीतकी दुनिया बसा कर आ सकोगे ।
हर जगह ही प्यार के मेले लगाओ ।
आ गयी दीपावली , शुभ स्वागतम् है ।।

——- जितेन्द्रकमल आनंद

Author
Jitendra Anand
हम जितेंद्र कमल आनंद को यह साहित्य पीडिया पसंद हैं , हमने इसलिए स्वरचित ११४ रचनाएँ पोस्ट कर दी हैं , यह अधिक से अधिक लोगों को पढने को मिले , आपका सहयोग चाहिए, धन्यवाद ----- जितेन्द्रकमल आनंद
Recommended Posts
मन सुमन को चाहिए लब मुस्कराते: जितेन्द्र कमल आनंद ( पोस्ट११२)
दीपावली की हार्दिक शुभकामनाएँ ::: मुक्तक ----------------+---+------+;+++-+++- मन सुमन को चाहिए, लब मुस्कराते । कवि रसिक को चाहिए ये गीत गाते । हों ऋचाएँ छंद... Read more
आप आये हमें एक निधि मिल गई।
Wasiph Ansary गीत Sep 19, 2017
स्वागतम स्वागतम स्वागतम स्वागतम। स्वागतम स्वागतम स्वागतम स्वागतम।। आप आये हमें एक निधि मिल गई। आसमाँ से ज़मीं तक कली खिल गई।। दिल में अरमां... Read more
दीपावली
रौशनी का है त्यौहार दीपावली करती खुशियों की बौछार दीपावली दूर कर मन कलुष बाँटती नेह है प्रीत का देती उपहार दीपावली साथ मिलकर सभी... Read more
दिपावली के दिन कर लो एक दीप दान
दिपावली के दिन कर लो एक दीप दान, यह एक दीप नहीं, यह तो है सैनिकों का सम्मान । दीप दान कर सैनिकों का सम्मान... Read more