आ कर तो देखो

कभी मेरी बाहों में आ कर तो देखो,
ज़रा मुझको अपना बनाकर तो देखो।

करूँगा तुम्हें प्यार सबसे जियादा,
महब्बत मेरी आजमा कर तो देखो।

बदन पर सजेगी सितारों सी शबनम,
मेरे इश्क़ में तुम नहाकर तो देखो।

ये शम्सो क़मर होंगे कदमों में जानां,
फ़क़त हाथ अपना हिला कर तो देखो।

खड़े मीरो मुंसफ़ हुजूरी में हर पल,
ज़रा इक नजर तुम उठा कर तो देखो।

बहारें सुनाएं तुम्हें राग गोपी,
सनम तुम जरा गुनगुना कर तो देखो।

उतर आएं सारे सितारे ज़मीं पर,
‘मिलन’ तुम जरा मुस्कुरा कर तो देखो।
————-मिलन

15 Views
You may also like: