आस्था :-भगवान या एलियन

आस्था -:भगवान या एलियन
सुख हो या दुःख हमें हमेशा एक आशा रहती है की सब भगवान का लिखा हुआ है ,और हमारी आशा बनी रहती है । प्रश्न उठता है क्या भगवान है? अगर है तो कंहा है? ऐसे लाखों प्रश्न करोड़ों सालों से विचारकों द्वारा पूछे जाते रहते है, और समय समय पर इन प्रश्नों के जवाब भी मिलते है । आज पूरा विश्व, सभी धर्म किसी ना किसी रूप में भगवान को अपनी आस्था बनाए हुए है । करोड़ों सालों से सब जिस भगवान मानतें है पूजते है उनमें आम इंसान से कुछ ज्यादा शक्ति और बनावट होती है । मेरा मत है की इंसान जिस भगवान पर आस्था करता है वो एलियन हो सकते है । एलियन जो की दूसरे ग्रह से आते है, उनके और हमारे कार्य, क्षमता और बनावट में बहुत फर्क हो सकता है । चुकी हमारे वैज्ञानिक भी बता चुके है की पृथ्वी जैसे करोड़ों ग्रह इस ब्रह्मांड उपस्थित है, तो ये भी हो सकता है उनमें भी जीवन हो उनकी भी तकनीकी हो जो हमारी पृथ्वी से भिन्न हो सकती है ।जिस प्रकार हमारे पृथ्वी के वैज्ञानिक दूसरे ग्रहो पर जा रहे है, हो सकता ये तकनीकी दूसरे ग्रह के निवासी करोड़ों साल पहले ही विकसित करके हमारे ग्रह पर आए होंगे ।
हमारे शरीर की बनावट ,वेशभूषा और भाषा एक जैसी ना होने के कारण शायद हम उनसे डरते थे या उनकी शक्ति हमसे ज्यादा रही होगी ।

एलियन को हम आज भगवान शायद उनके द्वारा किये गए अस्मभव कार्यों या आविष्कारों की वजह से भी मान सकते है ।

विचारक-
@विकास सैनी
उत्तर प्रदेश

Like 3 Comment 1
Views 19

You must be logged in to post comments.

Login Create Account

Loading comments
Copy link to share