*आँसू*

जब भी आँख से बहते आँसू ।
दिल की व्यथा कहते आँसू ।।
कभी दर्द में बहते आँसू ।
तो कभी ख़ुशी में बहते आँसू ।।

कौन कहता है … ?
कि आँसू में वजन नही होता ।।
जब भी आँख से आँसू गिरता है ।
दिल हल्का हल्का हो जाता है ।।

Like 2 Comment 0
Views 255

You must be logged in to post comments.

Login Create Account

Loading comments
Copy link to share
Sahityapedia Publishing