आँगन में चिड़िया चहके

आँगन में चिड़िया चहके ।
बाग उपवन में फूल महके ।।

नभ में देखो सूरज चमके ।
प्रकृति खुश होकर दमके ।।

झगड़े बचे न कोई दंगे ।
घर बैठे सब होकर चंगे ।।

जो बाहर वीर सैनिक खड़े ।
वही तो नित नित शत्रु से लड़े ।।

देखो डॉक्टर हमारे भगवान ।
दिन रात करते सेवा महान ।।

सब कीजिए इनका सहयोग ।
तभी रहेंगे हम सब निरोग ।।
।।जेपीएल।।।

3 Likes · 15 Views
J P LOVEWANSHI, MA(HISTORY) ,MA (HINDI) & MSC (MATHS) , MA (POLITICAL SCIENCE) "कविता लिखना...
You may also like: