अलाव

????
देहाती दुनिया में पुरातन,
प्रभावशाली तकनीक है अलाव।
जो गरीबों को कंपकपाती,
ठंढ़ की मार से करती है बचाव।
?
श्वेत चादर ओढ़े कोहरे के,
डँसती शीतलहर का फैलाव।
चिलचिली सर्द भरी धूँध,
से भरे मौसम का ये बदलाव।
?
ठंढ़ी-ठंढ़ी शीतकालिन,
पछुआ सर्द हवाओं का बहाव।
देह के अस्तित्व पर चुभती,
सुई सी ठिठुरनों का दबाव।
?
अग्नि के चारो तरफ बैठे,
लोगों का संकुचित घेराव।
उठती चिंगारियों की लपटों,
लहलहाती आँच का गर्माव।
?
धुआँ से आँखों में हो रहे,
किरकिरी,आँसुओं का छलकाव।
ठंढ़ से मरती जिंदगियों में,
जोश भरती उष्णता का प्रभाव।
?
आग में जला आलू,बैगन,टमाटर
की चटनी,चोखा का स्वाद लाजबाव।
गरम-गरम धी में
डूबा,लिट्टी में सत्तु का भराव।
?
प्रेम रसों का इसमें,
थोड़ा-थोड़ा सा छिड़काव।
इसके सामने फीका है,
मुगलई बिरयानी और पुलाव।
?
किस्से सुनाते बुढ़े-बुजुर्ग अपने
जवानी की देकर मुछों पर ताव।
ध्यान से सुनते सभी बड़े-बच्चे,
ऐसे कि जाने कितना हो सुनने में चाव।
?
कोई सुनाता,गीत,सोहर,
तो कोई जोक, लतीफे बेहिसाब।
खत्म करता हुआ ,
रिस्तों में पड़ा हुआ अलगाव।
?
छोटे-बड़े सबके चेहरे पर,
अन्जाने से खुशियों का ठहराव।
महिला-पुरूष,छोटे-बडे सभी,
बैठे हैं एक साथ मिटाकर भेदभाव।
?
खुश मिजाज हैं सभी मस्त,
बदला-बदला सा सबका स्वभाव।
आँखों में जाने छुपें हुए,
छलक उठे कितने तरह के भाव।
?
आते-जाते लोग भी आग देख,
रूक कुछ पल को डालते पड़ाव।
कोई सेकता हाथ और पाव,
कोई करता रिस्तों का सेंकाव।
?
प्रसुति महिला के लिये,
संजिवनी का काम करता अलाव।
खाट के नीचे रखकर,
करती कमर का सेकाव।
?
कमर दर्द की शिकायत में,
सुपर आयोडेक्स है इसका सुझाव।
ग्रामिण क्षेत्रों में ठंढ़ से बचने का,
अलाव सबसे नयाब नुस्खा है जनाब।
????—लक्ष्मी सिंह?☺

Like Comment 0
Views 142

You must be logged in to post comments.

Login Create Account

Loading comments
Copy link to share

क्या आप अपनी पुस्तक प्रकाशित करवाना चाहते हैं?

साहित्यपीडिया पब्लिशिंग द्वारा अपनी पुस्तक प्रकाशित करवायें सिर्फ ₹ 11,800/- रुपये में, जिसमें शामिल है-

  • 50 लेखक प्रतियाँ
  • बेहतरीन कवर डिज़ाइन
  • उच्च गुणवत्ता की प्रिंटिंग
  • Amazon, Flipkart पर पुस्तक की पूरे भारत में असीमित उपलब्धता
  • कम मूल्य पर लेखक प्रतियाँ मंगवाने की lifetime सुविधा
  • रॉयल्टी का मासिक भुगतान

अधिक जानकारी के लिए इस लिंक पर क्लिक करें- https://publish.sahityapedia.com/pricing

या हमें इस नंबर पर काल या Whatsapp करें- 9618066119