कुण्डलिया · Reading time: 1 minute

अभिनंदन

अभिनंदन नव वर्ष का , सबका हो कल्याण ।
सबको यह शुभकामना , बढ़े सभी का मान ।।
बढ़े सभी का मान , न कोई सुख को तरसे ।
सुख समृद्धि सौभाग्य , जीवन में सबके बरसे ।।
कह अशोक कविराज , सब मिल करें यह वन्दन ।
हृदय पट के भाव से ,नव वर्ष का अभिनंदन ।।

अशोक सोनी
भिलाई ।

3 Likes · 4 Comments · 54 Views
Like
135 Posts · 7.7k Views
You may also like:
Loading...